ગુજરાતના આ મોટા શહેરમાં પાનના ગલ્લા-ચાની દુકાનો સાથે ખાણી-પીણીની દુકાનો પણ બંધ કરાવાઈ, જાણો વિગત

0
10


सूरत पूरे राज्य में कोरोना का ब्लैक होल देखा जा रहा है। जैसे-जैसे राज्य में हालात दिन-ब-दिन बिगड़ते जा रहे हैं, अब प्रशासन भी कड़े फैसले ले रहा है। इसी क्रम में सूरत नगर आयुक्त ने सूरत शहर में पानी पीने, चाय की दुकानों और पत्तों के स्टॉल को बंद करने का आदेश दिया है।

लैरी गल्ला में भीड़ जमा होने के कारण यह निर्णय लिया गया। कमिश्नर ने विभिन्न स्थानों पर लारी गल्ला में कोविद -19 नियमों के उल्लंघन के कारण भोजन और पेय पदार्थों के आउटलेट को तत्काल बंद करने का आदेश दिया है।

इससे पहले, गांधीनगर जिला कलेक्टर द्वारा एक अधिसूचना जारी की गई है। इसके अनुसार, 30 अप्रैल तक जिले के सभी पत्ती स्टालों को बंद करने के आदेश दिए गए हैं।

गांधीनगर जिले में, पन्ना गैल को 30 अप्रैल तक बंद रखने के आदेश दिए गए हैं। जिला कलेक्टर कुलदीप आर्य ने आदेश जारी किया है। नियमों का उल्लंघन करने वालों पर आईपीसी की आपदा प्रबंधन अधिनियम और धारा के तहत भी कार्रवाई की जाएगी।

उल्लेखनीय रूप से, राज्य में कल सबसे अधिक 6021 नए मामले सामने आए। जबकि एक और 55 लोगों की मौत हो गई है। कल के मामले एक ही दिन में सबसे अधिक दर्ज किए गए हैं। राज्य में कुल मृत्यु का आंकड़ा 4855 हो गया है। & nbsp;

कोरोना को कल राज्य में 2,854 लोगों ने पीटा था। अब तक 3,17,981 लोगों को इससे छुट्टी मिल चुकी है। राज्य में सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 30,000 से अधिक हो गई है। राज्य में सक्रिय मामलों की संख्या 30,680 तक पहुंच गई है। इनमें से 216 वेंटिलेटर पर हैं और 30464 स्टेबल हैं। राज्य में कोरोना से वसूली दर 89.95 प्रतिशत है। राज्य में कुल मृत्यु का आंकड़ा 4855 हो गया है। & nbsp;

कोरोना से कितनी मौतें हुईं ?

कल अहमदाबाद निगम, सूरत कॉर्पोरेशन 18, वडोदरा कॉर्पोरेशन -7, राजकोट कॉर्पोरेशन -4, राजकोट 2, भरूच 1, बोटाड 1, साबरकांठा 1 और सूरत 1 में कुल 55 लोग मारे गए थे। राज्य में मरने वालों की संख्या बढ़कर 4855 हो गई है।

कितने मामलों की सूचना दी गई & nbsp;?

अहमदाबाद कॉर्पोरेशन में 1907, सूरत कॉर्पोरेशन में 1174, राजकोट कॉर्पोरेशन में 503, सूरत में 295, वडोदरा कॉर्पोरेशन में 261, जामनगर कॉर्पोरेशन में 184, मेहसाणा में 136, & nbsp; वडोदरा 120, & nbsp; जामनगर 112, पाटन 97, बनासकांठा 94, राजकोट 73, भावनगर कॉर्पोरेशन, & nbsp; नर्मदा 61, गांधीनगर 55, भरूच 54, गांधीनगर निगम 51, कच्छ 50, खेड़ा 49, अमरेली 48, मोरबी 48, नवसारी के 48, दाहोद के 45, जूनागढ़ के 44, जूनागढ़ निगम के 43, महिसागर के 43, भावनगर के 39, पंचमहल के 37, आनंद के 33, बोटाद के 31, सुरेन्द्रनगर के 29, वसद के 29, अहमदाबाद के 26, साबरकांठा के 24, देवभूमि द्वारका के 20 और डांग के 19 मामले दर्ज किए गए। थे। & Nbsp;





Source link

Leave a Reply