સૌરાષ્ટ્રમાં કોરોનાએ SRP જવાનના પરિવારનાં ત્રણનો ભોગ લીધો , જાણો ક્યાં ફરજ બજાવતા હતા જવાન ? 

0
11


राजकोट: हालांकि, सौराष्ट्र सहित पूरे गुजरात में कोरोना ने काली देखभाल फैला दी है, राजकोट जिले के गोंडल शहर में कोरोना से एक ही परिवार के तीन सदस्यों की मौत से खलबली मच गई है। एस.आर.पी. कांस्टेबल जितेंद्र सूर्यवंशी, उनके पिता और बहन की मृत्यु उसी दिन कोरोना के कारण हुई। तीन सदस्यों की मौत ने परिवार के साथ-साथ एसआरपी शिविर में शोक की लहर को फिर से जीवित कर दिया। अलग-अलग राज्यों में पिता-पुत्री और पुत्र की मृत्यु हो चुकी है। जितेंद्र सूर्यवंशी की मृत्यु तमिलनाडु में हुई, जबकि उनके पिता और बहन की मृत्यु महाराष्ट्र में हुई।

सूत्रों के मुताबिक, गोंडल एसआरपी ग्रुप 8 के कांस्टेबल जितेंद्रभाई दोलतभाई सूर्यवंशी विधानसभा चुनाव से पहले तमिलनाडु में ड्यूटी पर थे। उन्हें तमिलनाडु के एक अस्पताल ले जाया गया, जहां उन्होंने सुबह तड़के दम तोड़ दिया।

दूसरी ओर, उनके पिता डोलातभाई की भी मृत्यु उनके पैतृक गाँव बेतवाड़ महाराष्ट्र में कोरोना के कारण हुई। उनकी बहन मंगलबेन का भी उसी दिन कोरोना में निधन हो गया। एक ही परिवार के तीन सदस्यों की जान चली गई और परिवार तबाह हो गया। डोलतभाई गोंडल में एसआरपी में सेवा कर रहे थे और अपने गृहनगर में सेवानिवृत्त थे। जबकि उनकी बहन महाराष्ट्र के भस्ट में रहती थी।

कोरोनावायरस ने राज्य में फैलने से नहीं रोका है। रिकॉर्डब्रेक कोरोना पॉजिटिव केस हर दिन सामने आ रहे हैं। पिछले 24 घंटों में, राज्य में अब तक सबसे अधिक 7410 नए मामले सामने आए हैं। जबकि आगे 73 लोगों की मौत हो गई है। कोरोना से मरने वालों की कुल संख्या पांच हजार के करीब पहुंच गई है। & nbsp; & nbsp;

& nbsp;

राज्य में आज 2642 लोगों ने कोरोना को हराया है। अब तक 3,23,371 लोगों को इसके साथ छुट्टी दे दी गई है। राज्य में सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 39 हजार से अधिक हो गई है। राज्य में सक्रिय मामलों की संख्या 39,250 तक पहुंच गई है। जिनमें से 254 लोग वेंटिलेटर पर हैं और 38996 लोग स्थिर हैं। राज्य में कोरोना से वसूली दर 87.96 प्रतिशत है। & nbsp; राज्य में कुल मौत का आंकड़ा 4995 तक पहुंच गया है। & nbsp;

& nbsp;

कोरोना से कितनी मौतें?

& nbsp;

आज अहमदाबाद कॉर्पोरेशन 24, सूरत & nbsp; कॉर्पोरेशन 24, & nbsp; राजकोट कॉर्पोरेशन -7, वडोदरा कॉर्पोरेशन -6, राजकोट -2, साबरकांठा -2, अहमदाबाद, अमरेली, डांग, गांधीनगर, जूनागढ़, जूनागढ़, सूरत और वडोदरा एक-के-बाद-एक कुल 73 लोगों की मौत के साथ मारे गए। राज्य में मरने वालों की संख्या बढ़कर 4995 हो गई है।

& nbsp;

कहां और कितने मामले सामने आए?

& nbsp;

अहमदाबाद कॉर्पोरेशन में 2491, सूरत कॉर्पोरेशन में 1424, राजकोट कॉर्पोरेशन में 551, वडोदरा कॉर्पोरेशन में 317, जामनगर कॉर्पोरेशन 189, मेहसाणा 191, सूरत 231, & nbsp; बनासकांठा 119, वडोदरा 135, जामनगर 119, & nbsp; भरूच -124, पाटन -108, राजकोट -102, भावनगर कॉर्पोरेशन -84, भावनगर -81, नवसारी -78, आनंद -76, पंचशील -73, सुरेंद्रनगर -69, कच्छ – 68, गांधीनगर -62, दाहोद -61, & nbsp; गांधीनगर कॉर्पोरेशन -58, अमरेली -55, जूनागढ़ निगम -54, & nbsp; जूनागढ़ -52, खेड़ा -51, महिसागर -49, मोरबी -41, साबरकांठा -41; , तापसी 41, वलसाड -37, अहमदाबाद -35, अरावली -26, बोटाद -26, गिर सोमनाथ -23, नर्मदा -21, देवभूमि द्वारका -20, छोटा उदेपुर -12, पोरबंदर -9 और डांग।

& nbsp;

कितने लोगों ने टीका लगवाया

& nbsp;

कुल 85,29,083 लोगों को अब तक टीका की पहली खुराक दी गई है और 12,03,465 लोगों को टीकाकरण कार्यक्रम के तहत कोरोना वैक्सीन की दूसरी खुराक दी गई है। कुल 97,32,548 लोगों को टीका लगाया गया है। & nbsp; & nbsp;





Source link

Leave a Reply